Ticker

6/recent/ticker-posts

VPN क्या होता है? वीपीएन का मतलब - techconnection

 VPN क्या होता है? 





दोस्तों सुरक्षा किसको पसंद नहीं होता? चाहे वह सुरक्षा हमारे जान, माल की हो या हमारे धन की. लेकिन क्या आप जानते हैं कि आप जिस मोबाइल फोन से इंटरनेट या उससे जुड़ी कोई भी प्रक्रिया को अपने पर करते हैं, तो ऐसे में आपके फोन से आपकी निजी जानकारी की चोरी का खतरा होता है. 
अधिकांश लोग फ्री में मिलने वाली चीजों की ओर आकर्षित होते हैं, जैसे कि इंटरनेट wi-fi. हम मॉल, रेलवे स्टेशन, आदि जगहों में लगे wi-fi का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन इनका इस्तेमाल करना खतरनाक भी हो सकता है, क्योंकि यहां से भी आपके फोन से आपकी जानकारी को चुराया जा सकता है. 

ऐसे में VPN एक अच्छा विकल्प है, जिससे की आप सुरक्षित तरीके से इंटरनेट का प्रयोग कर सकते हैं. किसी भी देश की सरकार या बड़ी बड़ी संस्थाओं को लोग और उनसे जुड़ी जानकारी काफी मददगार होती है, जिससे की वे नई नियम या प्रोडक्ट को बना सकें. 
यदि आप बिल्कुल ही सुरक्षित तरीके से इंटरनेट का प्रयोग करना चाहते हैं और अपने सारी डिजिटल जानकारी को गुप्त रखना चाहते हैं तो आप वीपीएन का इस्तेमाल कर सकते हैं. वीपीएन के प्रयोग से इंटरनेट या फिर इससे जुड़ी कोई भी जानकारी सुरक्षित हो जाएगी. 

इस आर्टिकल में हम वीपीएन से जुड़ी सारी जानकारी को विस्तारपूर्वक चर्चा करेंगे. हम जानेंगे कि वीपीएन क्या होता है, वीपीएन का मतलब, वीपीएन एप्प डाउनलोड, vpn ka use kaise kare और types of vpn in hindi आदि टॉपिक के बारे में हम बात करेंगे. 
अगर आप वीपीएन से जुड़ी सारी जानकारी के बारे में जानना चाहते हैं तो आप इस पोस्ट को जरूर पढ़ें.

तो चलिए वीपीएन सर्वर से जुड़े इस धमाकेदार पोस्ट को शुरू करते हैं. 

techconnection.in


यह भी पढ़ें



वीपीएन क्या है? 
(What is vpn in hindi) 


 
वीपीएन एक प्राइवेट नेटवर्क या फिर कहें सॉफ्टवेयर की तरह ही होता है. इसका प्रयोग मुख्यतः किसी खुफिया जानकारी या डेटा के आदान प्रदान के लिए किया जाता है, लेकिन इसके अलावा भी वीपीएन के कई सारे महत्वपूर्ण प्रयोग हैं. 
वीपीएन को आप अपने लैपटॉप/पीसी, मोबाइल के द्वारा भी प्रयोग कर सकते हैं. वीपीएन के बारे में सबसे खास बात यह है कि आप उन सभी एप्प या वेबसाइट का प्रयोग कर सकते हैं, जो आपके देश में प्रतिबंधित है. आप वीपीएन के मदद से अपने मौजूदा आईपी (इंटरनेट प्रोटोकॉल) एड्रेस को बदल सकते हैं और इसके मदद से आप किसी भी क्षेत्र में प्रतिबंधित एप्प या वेबसाइट का इस्तेमाल कर सकते हैं. वीपीएन का प्रयोग मुख्यत साइबर सुरक्षा के तौर पर किया जाता है, ताकि किसी भी confidential data का सुरक्षित तरीके से आदान-प्रदान किया जा सके. 

यहां तक हमें उम्मीद है कि आपको आपके सवाल का जवाब मिल गया होगा कि vpn ka kya matlab hai

VPN का फुल फॉर्म क्या होता है? 
(VPN ka full form) 


वीपीएन के बारे में जानकारी प्राप्त करने के क्रम में लोग vpn ka full form के बारे में भी खोजते हैं. Vpn ka full form:- Virtual Private Network (वर्चुअल प्राईवेट नेटवर्क) होता है. 

वीपीएन किस तरह काम करता है? 
(How VPN works) 


वीपीएन मुख्यतः encryption और tunneling के आधार पर कार्य करता है. यदि सबसे साधारण भाषा में वीपीएन सर्वर के बारे में बताया जाय तो यह आपके इंटरनेट सर्विस प्रोभायडर (ISP) को किसी भी प्रतिबंधित एप्प/वेबसाइट को आपके IP address को बदलकर सीधे उस वेबसाइट पर redirect करता है.  

जैसे यदि आप अपने इंटरनेट पर फेसबुक सर्च करते हैं और यह वेबसाइट अगर आपके देश में प्रतिबंधित हैं, तो जाहिर तौर पर आप इसका प्रयोग नहीं कर सकते हैं. लेकिन यदि आप वीपीएन का प्रयोग करते हैं तो आसानी से फेसबुक का प्रयोग कर सकते हैं. दरअसल वीपीएन के प्रयोग से आप अपने आईपी एड्रेस को बदल सकते हैं जिससे की आपका इंटरनेट प्रदाता आपको सीधे ही दूसरे लोकेशन के आईपी के साथ फेसबुक पर रिडाइरेक्ट कर देता है.

तो है न वीपीएन सर्वर एक बिलकुल ही कमाल की तकनीक ?

वीपीएन की एक और खास बात है की वीपीएन के प्रयोग से आपकी आईपी एड्रेस हर सेकंड बदलती रहती है जिस से की कोई भी साइबर आतंकवादी आपके किसी भी जानकारी और अन्य सूचनाओं को हानि नहीं पहुचा सकता है.
वीपीएन आपके इंटरनेट सर्विस प्रदाता और वेबसाइट के बीच होने वाले सभी प्रोसेस को एन्क्रिप्ट कर देता है जिस से की आपके द्वारा इंटरनेट पर किये गए सभी खोजें गुप्त रहती हैं.

तो इस तरह से वीपीएन सर्वर कार्य करता है और अब हम जानेंगे की वीपीएन के  फायदे और वीपीएन के नुकसान क्या क्या हैं?


वीपीएन के फायदे 
(Benefits of VPN in hindi)


दोस्तों वैसे तो हर एक के अपने अपने फायदे और नुकसान हैं, ठीक वीपीएन के भी  फायदे और साथ ही नुकसान भी हैं. हम दोनों के बारे में विस्तार में बात करेंगे और जानेंगे की वीपीएन आखिर इतना खास क्यों है?

1. वीपीएन के बारे में सबसे बड़े फायदे की बात करें तो आप वीपीएन के प्रयोग से अपने देश में प्रतिबंधित किसी भी वेबसाइट या ऐप को चालू कर सकते हैं. वीपीएन की यह सबसे बड़ी विशेषता है. 
वीपीएन आपको किसी भी वेबसाइट या ऐप तक रिडिरेक्ट कर सकता है जिसे केवल वेब के जरिये चालू करना मुमकिन नहीं होता है.

2. वीपीएन आपको किसी भी गुप्त जानकारी के आदान प्रदान में पूरी सुरक्षा प्रदान करता है जिस से की कोई भी साइबर आतंकवादी आपके उस डाटा को हैक नहीं कर सकता और आप सुरक्षित तरीके से अपने कार्य को कर सकते हैं.
यह भी वीपीएन की एक बड़ी विशेषता है की आप रिस्क फ्री किसी भी ऑनलाइन कार्य को कर सकते हैं.

3. वीपीएन सर्वर आपके आईपी एड्रेस को हर एक सेकंड में बदलता रहता है, जिस से आपको कोई भी ट्रेस नहीं कर सकता इस से यह फायदा है की बहुत लोगों को यह आशंका होती है कोई व्यक्ति उन पर नज़र रख रहा है. तो आप इस से बिलकुल फ्री रह सकते हैं.
इसलिए वीपीएन के प्रयोग से आप एक ही समय पर अपने एड्रेस को digitally अलग अलग बता सकते हैं. 

4. वीपीएन की सबसे बड़ी विशेषता यह भी है की इसका प्रयोग आप एक छोटे से मोबाइल से लेकर बड़े बड़े कंप्यूटर सिस्टम में भी कर सकते हैं.
ऐसा नहीं होता की वीपीएन का प्रयोग केवल कंप्यूटर पर ही किया सकता है.

तो यह थे वीपीएन से जुड़े कुछ खास फायदे और उनकी विशेषता , अब हम वीपीएन के नुकसान के बारे में चर्चा करेंगे।

वीपीएन के नुकसान 
(Disadvantages of VPN in hindi)


1. वीपीएन के बारे में सबसे बड़ी नुकसान की बात करें तो वीपीएन सर्वर के प्रयोग से भी आप पूरी तरह से सुरक्षित नहीं हैं. यदि आप सोच रहे हैं की वीपीएन से आपका डाटा सिक्योर है, तो आप हमेशा यह ध्यान रखे की आपका डाटा हमेशा वीपीएन सर्वर में स्टोर रहता है.
वीपीएन सर्वर से आपके डाटा को निकाला जा सकता है.

2. कभी कभी वीपीएन के प्रयोग से हैकर्स आपके कीमती डाटा को हैक कर लेते हैं और बाद में उसका दुरूपयोग करते हैं. 
इसलिए वीपीएन का प्रयोग भी कभी कभी असुरक्षित साबित हो सकता है. आप हमेशा सावधानीपूर्वक ही वीपीएन का प्रयोग करें।

3. वीपीएन सेवाएं फ्री और शुल्क लेकर दोनों तरह उपलब्ध हैं. लेकिन यदि आप फ्री वीपीएन सेवाओं का प्रयोग करते हैं तो आपके कीमती डाटा का दुरुपयोग किया जा सकता है. 
अधिकतर लोग शुल्क की जगह फ्री वीपीएन का प्रयोग करते हैं जिस से की काफी साइबर क्राइम को अंजाम दिया जाता है.

4. अच्छे और सुरक्षित वीपीएन सेवाओं का प्रयोग करने के लिए आपको मासिक तौर पर पैसे देने पड़ते हैं.
बड़ी बड़ी संस्थाएं अपने डाटा और प्राइवेसी के लिए वीपीएन के प्रयोग पर एक अच्छी खासी फीस खर्च करते हैं.

तो अब तक हमने वीपीएन के फायदे और वीपीएन के नुकसान के बारे में चर्चा की. अब हम इंटरनेट पर मौजूद कुछ बढ़िया वीपीएन और वीपीएन डाउनलोड के बारे में बात करेंगे। 

वीपीएन डाउनलोड 
(VPN download in hindi)



दोस्तों, इंटरनेट पर आपको बहुत सारे फ्री और पेड वीपीएन सेवाएं मिल जाएँगी।यदि आप थोड़े बजट दे सकते हैं तो आप पेड वीपीएन के विकल्प का चुनाव करें।लेकिन जो बिलकुल भी खर्च नहीं कर सकते उनके लिये कुछ फ्री वीपीएन वेबसाइट के बारे में भी जानकारी दी गयी है.

तो चलिए सबसे पहले हम फ्री वीपीएन सेवाओं के बारे में बात करेंगे और आप आसानी से उस वीपीएन वेबसाइट पर जाकर वीपीएन डाउनलोड कर सकते हैं.

फ्री वीपीएन सेवाएं 


1. ProtonVPN :- यह फ्री वीपीएन सुविधा को आप आसानी से इनके वेबसाइट पर जाकर इनस्टॉल कर सकते हैं. इस वीपीएन सेवा की प्राइवेसी पालिसी काफी अच्छी है.

2. Windscribe:- इस वीपीएन सेवा की भी प्राइवेसी काफी अच्छी है. साथ ही इसकी स्पीड और इनकी मासिक 10 GB की डाटा की सुविधा, इस फ्री वीपीएन को खास बनाती है.

वीपीएन फ्री सेवाओं में इन दोनों का नाम काफी लोकप्रिय है. अब हम पेड वीपीएन सेवाओं के बारे में बात करेंगे।

पेड वीपीएन सेवाएं 


1. Pure VPN:- जो लोग थोड़े बजट में पेड वीपीएन सेवा का प्रयोग करना चाहते हैं, उनके लिए यह वीपीएन सही है. इस वीपीएन की स्पीड भी काफी अच्छी है. इस वीपीएन कंपनी पर कुछ गैर कानूनी आरोप भी लगे थे लेकिन इस कंपनी ने इसे गलत साबित करते हुए अपनी मार्किट बनाई।

2. Namecheap:- मुख्य रूप से यह एक डोमेन रजिस्टर और होस्टिंग कंपनी है. फ़िलहाल ही इन्होने वीपीएन सेवा की सुरुवात की है. यह भी काफी अच्छी वीपीएन कंपनी है. इनकी स्पीड और नेटफ्लिक्स की स्ट्रीमिंग के लिए यह वीपीएन सेवा काफी लोकप्रिय है.

3. PrivateInternetAccess:- अमेरिका में स्थापित यर्ह वीपीएन सेवा भी काफी लोकप्रिय है. मात्र 3009 रुपये में आप इस वीपीएन सेवा को चौदह महीने के लिए इस्तेमाल कर सकते है.
स्पीड, नो लॉग्स , और अच्छी प्राइवेसी पालिसी के कारण भी यह वीपीएन सेवा काफी अच्छा है.

4. Surfshark:- यह एक यूजर फ्रेंडली वीपीएन सेवा है जो भारत में तीन लोकेशन पर काम करता है और करीब साठ सर्वर्स के साथ काम करता है. यह अन्य वीपीएन सेवाओं के मुकाबले काफी सस्ता है. 
आप इसका प्रयोग करीब चार हजार रूपए में पुरे दो साल के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं. नो लॉग्स, अच्छी प्राइवेसी पालिसी और अच्छी स्ट्रीमिंग के लिए भी यह एक पसंदीदा वीपीएन सेवा है.

5. NordVPN :- यह भी वीपीएन सेवाओं की सूचि में काफी लोकप्रिय है. इसकी ब्रांडिंग और वीपीएन सेवा काफी अच्छी है. आप इसे करीब 125 डॉलर में तीन सालों के लिए एनरोल कर सकते हैं.
नो लॉग्स, प्राइवेसी पालिसी और अच्छे सर्वर्स सपोर्ट जैसी चीजे भी इस वीपीएन को काफी खास बनाती है.

तो ये थे कुछ अच्छे फ्री और पेड वीपीएन सेवाएं जिन्हे आप इस्तेमाल कर सकते हैं. अधिक जानकारी के लिए आप इन वीपीएन के आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट  कर सकते हैं.


उपसंहार 


हमे उम्मीद है की वीपीएन की जानकारी से जुड़ा यह पोस्ट आपके लिए फायदेमंद और जानकारीभरा होगा। इस पोस्ट में हमने वीपीएन से जुड़े सभी बिंदुओं पर चर्चा की है. जैसे की वीपीएन क्या है? वीपीएन का मतलब, वीपीएन का फुल फॉर्म, वीपीएन कैसे काम? वीपीएन के फायदे, वीपीएन के नुकसान, वीपीएन ऐप डाउनलोड , इत्यादि। आज के जमाने में जहाँ साइबर अटैक चोरी, हैकिंग जैसी जुर्मों को हर रोज अंजाम दिया जा रहा है, वह वीपीएन जैसी तकनीक की भूमिका अधिक हो जाती है. 

वीपीएन के फायदे के साथ साथ इसके कुछ नुकसान भी है की क्यों वीपीएन आपके लिए रिस्की भी हो सकती है.
अगर आप वीपीएन के बारे में अधिक जानकारी या इस पोस्ट से जुडी कोई भी दिकत हो तो आप हमें निचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। 

और यदि आगे भी ऐसे ही जानकारी भरे ब्लॉग पोस्ट को चाहते हैं, तो आप Techconnection के साथ जुड़े रहे. साथ ही आप हमारे सभी सोशल मीडिया प्रोफाइल से भी जरूर जुड़ें।
.......................

Post a comment

0 Comments